Essay on mother india. Sample Essay on my country India for school students 2019-01-17

Essay on mother india Rating: 6,6/10 236 reviews

Free Essays on Essay On Mother India through

essay on mother india

Our mother makes so many sacrifices for us and we never thank her and her hard work goes unnoticed. Smile: A Nicaraguan journey; a volume of essays, Imaginary Homelands, and. She inspires us every day and teaches us how to face the toughest challenges of life. The belong tongue of the Roles is interested from the ocr additional science coursework help tongue of the Lawmakers. They were under French government that was not very concerned about their welfare. In the east, there are Mizoram, Manipur and Meghalaya. In population it is second only to China.

Next

Essays On Mother India Free Essays

essay on mother india

They live in a peace and unity. She makes us believe that we can do any thing in world if we want. She spreads out from the Assam Hills in the east the Bay of Kutch in the west. His exuberant exclamation near the end of the poem, 'and so I send O all my faith and all my love to her. She has many rivers which irrigate her vast and fertile lands.

Next

My Motherland India

essay on mother india

India is the land of great saints like the Buddha and Guru Nanak. Get help short essay essay on mother tongue of india dog in hindi your dissertation. Before 1947, India was under the British rule. It has 28 states which again have many small villages. He sent the Cabinet Mission to India to solve the political problem whether to divide the country or to leave it united and to devise means of granting her independence. The two Asian giants- India and China have today turned the leaders of growth.

Next

Mother India

essay on mother india

When you look at your mother and father have you ever pictured your family to be split into two? For India, those rare moments have arrived. The national animal of India is tiger, national bird is peacock, national flower is lotus and national fruit is mango. It is the land of big rivers and fertile plains. In the field of science and literature, India has produced eminent people like Rabindra Nath Tagore, Sir C. What is through change on my mother becoming tip of california 11pm a puff of her clean and ability tongue transform store. It is a peninsula means surrounded by oceans from three sides such as Bay of Bengal in east, Arabian Sea in west and Indian Ocean in south.

Next

Free Essays on Essay On Mother India through

essay on mother india

Even if everyone will be against us, she will be the only one standing by our side. They can select anyone of these India essay according to the words limit: India Essay 1 100 words India is a famous country all over the world. It is the land where civilization first blossomed in the world. It is the seventh-largest country by area, the second-most populous country with over 1. वो हमें हमेशा हमारे जीवन में अच्छे चीजों को पाने के लिये प्रेरित करती है। वो सभी के जीवन की पहली अध्यापक होती है जिसकी शिक्षा पूरे जीवन भर कीमती और लाभप्रद साबित होती है। माँ पर निबंध 4 250 शब्द किसी के भी जीवन में एक माँ पहली, सर्वश्रेष्ठ और सबसे अच्छी व महत्त्वपूर्ण होती है क्योंकि कोई भी उसके जैसा सच्चा और वास्तविक नहीं हो सकता। वो एकमात्र ऐसी है जो हमेशा हमारे अच्छे और बुरे समय में साथ रहती है। अपने जीवन में दूसरों से ज्यादा वो हमेशा हमारा ध्यान रखती है और प्यार करती है जितना कि हम काबिल नहीं होते है। अपने जीवन मे वो हमें पहली प्राथमिकता देती है और हमारे बुरे समय में उम्मीद की झलक देती है। जिस दिन हम पैदा होते है वो माँ ही होती है जो सच में बहुत खुश हो जाती है। वो हमारे हर सुख-दुख का कारण जानती है और कोशिश करती है कि हम हमेशा खुश रहें। माँ और बच्चों के बीच में यहाँ एक खास बंधन होता है जो कभी खत्म नहीं हो सकता है। कोई माँ कभी भी अपने प्यार और परवरिश को अपने बच्चे के लिये कम नहीं करती और हमेशा अपने हर बच्चे को बराबर प्यार करती है लेकिन उनके बुढ़ापे में हम सभी बच्चे मिलकर भी उसे थोड़ा सा प्यार नहीं दे पाते है। इसके बावजूद वो हमें कभी गलत नहीं समझती और हमेशा एक छोटे बच्चे की तरह माफ कर देती है। वो हमारी हर बात को समझती और हम उसे बेवकूफ नहीं बना सकते है। वो नहीं चाहती कि हमें किसी दूसरे से तकलीफ पहुँचे और दूसरों से अच्छा व्यवहार करने की सीख देती है। माँ को धन्यवाद देने और आदर के लिये हर साल 5 मई को मातृ दिवस के रुप में मनाया जाता है। हमारे जीवन में माँ के रुप में कोई भी नहीं हो सकता है। हम भी हमेशा पूरे जीवन भर अपने माँ का ख्याल रखते है। माँ पर निबंध 5 300 शब्द हर एक के जीवन में माँ ही एक ऐसी होती है जो हमारे दिल में किसी और की जगह नहीं ले सकती है। वो प्रकृति की तरह है जो हमेशा हमको देने के लिये जानी जाती है, बदले में बिना कुछ भी हमसे वापस लिये। हम उसे अपने जीवन के पहले पल से देखते है जब इस दुनिया में हम अपनी आँखे खोलते है। जब हम बोलना शुरु करते है तो हमारा पहला शब्द होता है माँ। इस धरती पर वो हमारी पहला प्यार, पहला शिक्षक और सबसे पहला दोस्त होती है । जब हम पैदा होते है तो हम कुछ नहीं जानते और कुछ भी करने के लायक नहीं होते हालाँकि ये माँ ही होती है जो हमें अपनी गोद में बड़ा करती है। वो हमें इस काबिल बनाती है कि हम दुनिया को समझ सकें और कुछ भी कर सकें। वो हमेशा हमारे लिये उपलब्ध रहती है ईश्वर की तरह हमारी परवरिश करती है। अगर इस धरती पर कोई भगवान है तो, वो हमारी माँ है। कोई भी हमें माँ की तरह प्यार और परवरिश नहीं कर सकता और कोई भी उसकी तरह अपना सबकुछ हमारे लिये बलिदान नहीं कर सकता। वो हमारे जीवन की सबसे बेहतरीन महिला होती है जिसकी जगह किसी के भी द्वारा भविष्य में नही बदली जा सकती। बहुत थकने के बावजूद भी वो हमेशा हमारे लिये बिना थके हुये की तरह कुछ भी करने को तैयार रहती है। वो हमें बड़े प्यार से सुबह भोर में उठाती है, नाश्ता बनाती है और दोपहर का खाना और पीने का बोतल हमेशा की तरह देती है। दोपहर में सभी काम-काज खत्म करने के बाद वो दरवाजे पर हमारा इंतजार करती है। हमारे लिये वो रात का जायकेदार खाना बनाती है और हमेशा हमारे पसंद-नापसंद का ध्यान रखती है। वो हमारे प्रोजेक्ट और स्कूल होमवर्क में भी मदद करती है। जिस तरह एक महासागर बिना पानी के नहीं हो सकता उसी तरह माँ भी हमें ढ़ेर सारा प्यार और देख-रेख करने से नहीं थकती है। वो अनोखी होती है और पूरे ब्रम्हाण्ड में एकमात्र ऐसी है जिसे किसी से नहीं बदला जा सकता। वो हमारे सभी छोटी और बड़ी समस्याओं का असली समाधान है। वो इकलौती ऐसी होती है जो कभी भी अपने बच्चों को बुरा नहीं कहती और हमेशा उनका पक्ष लेती है। माँ पर निबंध 6 400 शब्द इस दुनिया में किसी भी चीज को माँ के सच्चे प्यार और परवरिश से नहीं तौला जा सकता। वो हमारे जीवन की एकमात्र ऐसी महिला है जो बिनी किसी मंशा के अपने बच्चे को ढ़ेरा सारा प्यारा परवरिश देती है। एक माँ के लिये बच्चा ही सबकुछ होता है। जब हम मजबूर होते है तो वो हमेशा जीवन में किसी भी कठिन कार्य को करने के लिये हमें प्रेरित करती है। वो एक अच्छी श्रोता होती है और हमारे हर अच्छी और बुरी बातों को सुनती है जो हम कहते है। वो हमें कभी रोकती नहीं और किसी हद में नहीं बाँधती। वो हमें अच्छे-बुरे का फर्क करना सीखाती है। सच्चे प्यार का दूसरा नाम माँ है जो केवल एक माँ हो सकती है। उस समय से जब हम उसकी कोख में आते है, जन्म लेते है और इस दुनिया मे आते है पूरे में जीवन भर उसके साथ रहते है। वो हमें प्यार और परवरिश देती है। माँ से अनमोल कुछ भी नहीं जो भगवान के द्वारा आशीर्वाद समान होता है इसलिये हमें ईश्वर का आभारी होना चाहिये। वो सच्चे प्यार, परवरिश और बलिदान का अवतार होती है। वो एक ऐसी होती है जो हमें जन्म देकर मकान को मीठे घर में बदल देती है। वो एक ऐसी है जो पहली बार हमारे स्कूल की शुरुआत घर में ही करती है हमारे जीवन की सबसे पहली और प्यारी शिक्षक होती है। वो हमें जीवन का सच्चा दर्शन और व्यवहार करने का तरीका सीखाती है। इस दुनिया में हमारे जीवन के शुरु होते ही वो हमें प्यार करती है और हमारा ध्यान देती है अर्थात उसकी कोख में आने से उसके जीवन तक। बहुत दुख और पीड़ा सहकर वो हमें जन्म देती है लेकिन इसके बदले में वो हमेशा हमें प्यार देती है। इस दुनिया में कोई भी ऐसा प्यार नहीं है जो बहुत मजबूत, हमेशा के लिये निस्वार्थ हो, शुद्ध और समर्पित हो। वो आपके जीवन में अंधकार को दूर करके रोशनी भरती है। हर रात को वो पौराणिक कथाएँ सुनाती है, देवी-देवताओं की कहानियाँ और दूसरी राजा-रानीयों की ऐतिहासिक कहानियाँ सुनाती है। वो हमेशा हमारे स्वास्थ्य, शिक्षा, भविष्य और अजनबियों से हमारी सुरक्षा को लेकर बहुत चिंतित रहती है। वो हमेशा हमें जीवन में सही दिशा की ओर आगे बढ़ाती है और सबसे खास बात कि वो हमारे जीवन में खुशियाँ फैलाती है। वो हमें छोटे और असमर्थ बच्चे से मानसिक, शारीरिक, सामाजिक और बौद्धिक मनुष्य बनाती है। वो हमेशा हमारा पक्ष लेती है और भगवान से हमारे स्वास्थ्य और अच्छे भविष्य के लिये पूरे जीवन भर प्रार्थना करती है इसके बावजूद कि हम कई बार उनको दुखी भी कर देते है। लेकिन हमेशा उसके मुस्कुराते चेहरे के पीछे एक दर्द होता है जिसे हमें समझने की जरुरत है ध्यान रखने की जरुरत है। लोकप्रिय पृष्ठ: An Entrepreneur Director, White Planet Technologies Pvt. From the pre-independence view of Bharat Mata as a serene, holy woman radiating peace and calm, the images that soon followed were that of strength, anger, wit, and innovation.

Next

FREE Why I am proud of my Motherland INDIA Essay

essay on mother india

What impressed me most about the film is the way it shows the story from both. It enjoys a place of pride in the comity of nations. This paper draws a comparison and contrast between the gender roles as depicted in Battle of Algeris and Mother India. Gandhi is well praised with historians for fighting for independence using his words and nonviolent philosophy instead of using violence. It is growing continuously in the field of technology, science and literature because of the eminent people like Rabindra Nath Tagore, Sir Jagdish Chandra Bose, Sir C.

Next

Essays On Mother India Free Essays

essay on mother india

For other uses, see India disambiguation. Mother being the supreme lover, loves her child like nothing. This act of moving away or turning away from an intimate situation suggests a sense of purity in a woman, that she is not accustomed to situations like this and that it is new to her and in a sense depicts her to be a virgin, to both her husband and the viewers. We have inherited our culture through the centuries. India 's population is about a hundred crores. Under the Union Government, new industries are being set up.


Next

Mother India free essay sample

essay on mother india

Indd 90 global parenting magazine providing insightful intelligent journalism covering topics from alfonzos freewriting that could lead to public safety. There were difficulties in the beginning. They fought without ay sword or gun. The movie had major significance in terms of the patriotism and the changing situation in the nation at the time, and how the country was functioning without British authority. India Essay 5 300 words India is my motherland country where I took birth. Tagore uses The Conclusion to give an example of heartless treatment towards women when Mrinmayi is selected to marry Apurba.

Next

Mother India free essay sample

essay on mother india

The project youve embarked on crusades to redress the balance. The main haunting melody of Mother India repeats in the scene. They initiate learning by seeing or hearing an announcement on an individual. Ambedkar, etc , great scientists Dr. I grew up from a very young age with having my parents split.

Next